Personal Loan Process in Hindi | Personal Loan Kaise le?

1
260
Personal Loan Process in Hindi
Personal Loan Process in Hindi

दोस्त सबसे पहले हम समझ लेते ही Personal Loan होता है क्या है दोस्तों Personal Loan का मतलब होता है व्यक्तिगत ऋण यानी कि अपने Personal कुछ भी कर खर्चा हो Personal कुछ भी खर्चा हो जैसे शादी करनी है घर में या किसी की ट्यूशन फीस भरनी है या हमें घर में कोई सामान खरीदना है तो आपका कोई भी व्यक्तिगत खर्चा हो फैमिली का कोई खर्चा करना हो तो उसके लिए जो भी आप ऋण लेते हैं उसको दोस्तों हम बोलते हैं Personal Loan दोस्तों बात आती है कि Personal Loan किस तरीके से ले सकते हैं|

Personal Loan Process in Hindi | Personal Loan Kaise le?

 इसका क्या प्रोसीजर होता है तो दोस्तों सबसे पहले अगर आपको मालूम आपको Personal Loan की जरूरत हुई तो सबसे पहले आप अपने बैंक में ही कांटेक्ट करें जहां पर आप का बैंक अकाउंट है अगर आप एक सैलेरी पर्सन है आपका उसमें आपका सैलरी अकाउंट है और आपका सैलरी आता है तो तू बैंक आपको कभी भी Personal Loan के लिए मना नहीं करेगा लेकिन अगर दोस्तों आपका कोई सैलरी नहीं आता है सिर्फ आपका नॉर्मल अकाउंट खुला हुआ है तो दोस्तों वहां पर बैंक को थोड़ा ही चलता है कि दोस्तों कोई भी नहीं होता है|

Credit score

 यह सबनहीं भरा तो बैंक के लिए वहां पर सैलरी अकाउंट है जिसका बिजनेस करंट अकाउंट है उसका बराबर उसने पैसा आता जाता रहता है तो वह सब देख देखता है उसके बाद जोअपने पहले ही कोई क्रेडिट कार्ड लिया होगा है कोई Loan आपकी पहले से चल रही है तो दोस्तों उसको आप टाइम से भरे आपके क्रेडिट कार्ड का बिल आप टाइम से भरे आप का जलवा कायम है उसको टाइम से बड़े उससे होता है क्या कि आपका सिविल स्कोर अच्छा रहता है आपका उसमें % अच्छा इसको बढ़ता जाता है|

Condition

 जैसे जैसे आप loan.emi भरते हैं अच्छे टाइम से बढ़ते हैं तो आप का स्कोर आराम से 800 और 900 के बीच में रहता है तो जब आप कोई भी बैंक के पास Personal Loan के लिए जाएंगे तो आपको कोई भी वह सिस्को को देखकर ही आपको मना नहीं करेगा क्योंकि आप बहुत अच्छा है क्या हुआ है उसका कंडीशन क्या है उसमें बैलेंस कितना रखते हो उसमें ट्रांजिशन किस तरीके से होता है|

 वह सब आपने अगर कोई चैक वगैरह किसी को दिए हुए टीचर में और वह रिटर्न वगैरह हुए हैं आपने किसी से चैट लिया हुआ है वह रिटर्न हुए हैं तो उसमें दोस्तों क्या आपका जो क्रेडिट चले वह खराब हो जाता है उसमें बैंक सोचता है कि यह बंदा सीरियस नहीं है यह अपने अकाउंट के प्रति सीरियस नहीं है और आज जो Personal Loan लेने आ रहा है कल को यह भरेगा नहीं बनेगा इसकी भी कोई गारंटी नहीं है|

 कभी मना नहीं करेगा दोस्तों Personal Loan के कुछ फायदे हैं और कुछ नुकसान भी हैं जैसे की फाइलें तो यह है कि इसमें दोस्तों आपको कोई गारंटी नहीं देनी पड़ती है कोई गारंटर की जरूरत नहीं होती है आपको बैंकों को सिक्योरिटी नहीं देनी होती है और इसका प्रोसेस भी थोड़ा फास्ट होता है दूसरे Loan की तुलना में क्योंकि इसमें बहुत कम document आपको देने होते हैं|

Document

 जल्दी आपका आधार कार्ड पैन कार्ड फोटोस और आपकी जो भी सैलरी स्लिप है आईटी रिटर्न है विभिन्न दोस्तों और नुकसान क्या है नुकसान यह है कि दोस्तों अब तो जो सबसे महंगा Loan है जो जिस पर सबसे ज्यादा ब्याज बैंक लेती है वह Personal Loan ही होता है और दोस्तों जब तक आप तो उसका EMI भी आपको ज्यादा आएगा और आपको जब टाइम मिलेगा|

TIME

 उसको जो पे करने का वह भी कम मिलता है क्योंकि और बैंकों में होम Loan में हुआ व्हीकल Loan में और मैं ज्यादा टाइम मिलता है लेकिन Personal Loan में आपको बैंक ज्यादा से ज्यादा दो-तीन साल से ज्यादा नहीं देगी उसको पे करने के लिए आपके पास टाइम भी कम होता है उसको पे करने के लिए और आपका जो रेट ऑफ इंटरेस्ट है वह भी ज्यादा लगता है तो दोस्तों जब तक आपको कोई विशेष रूप से Personal Loan की जरूरत नहीं हो तब तक आप अच्छा है कि Personal Loan दोस्तों पर आपको वास्तव में रिक्वायरमेंट है तो Personal Loan लेने से पहले कुछ बातें ऐसी है|

Inquiry

 जो आपको विशेष तौर से ध्यान रखना चाहिए जैसे सबसे पहले तो डिसाइड आप पास मेरे अकाउंट बना कर दिया तो आप किसी दूसरे बैंक के पास जाने से पहले आप पहले डिसाइड कर लें कि आपका कौन से बैंक में विश्वास है अब कौन से बैंक को पसंद करते हैं और दो तो ज्यादा बैंक में इंक्वायरी ना करें क्योंकि ज्यादा इंक्वायरी करने से क्या होता है|

 कि वह सब जिस भी बैंक में आप जा रहे हो वह सबसे पहले आपका सिबिल रिपोर्ट चेक करते हैं और जैसे दोस्तों सिबिल रिपोर्ट में आप कहीं पर भी Loan की फाइल करते हो तो वह इंक्वायरी भी उस में दिखने लगती है तू जितनी ज्यादा इंक्वायरी आपकी होगी उतना सिविल स्कोर आपका घट जाएगा आपके सिविल पर वह नेगेटिव नेगेटिव मार्क्स डालता है कि आपने इतनी जगह Loan के लिए फिर भी उन्होंने कोई रीज़न होगा|

इंक्वायरी कर उनको कन्वेंस करने की कोशिश करें ब्रांच मैनेजर मेरा सब कुछ ठीक है और आपका सब कुछ ठीक होगा तो दोस्त आपको कोई मना नहीं करेगा दूसरा लग रहा है वहां पर सस्ता दे सकते हैं 11:00 % पर Personal Loan देते हैं जबकि आप किसी सरकारी बैंक में गए तो वहां आपको बताया 14 या 15 या 13 जून का परसेंटेज ज्यादा है सबसे पहले आप उनको उन्हीं को ध्यान दें जब आपको लग रहा है कि यहां पर कम रेट मिल रहा है लेकिन कम रेट के पीछे कोई वजह होती है| कि वह कम रेट क्यों दे रहे हैं दोस्तों उनका जो कोई भी Loan लेते हैं|

processing  charges

 तो एक processing  charges होते हैं वह processing  चार्ज है जो होता है वह आपके Loan की अमाउंट पर डिपेंड करता है जिसे आप ₹50000 ले रहे हैं ₹100000 ले रहे हैं तो उसका परसेंटेज में होता है कि हम ₹100000 अगर आप लोग ले रहे तो उसका 2% या 3% तो हमसे processing  चार्ज लेंगे तो दोस्त सरकारी processing  चार्ज इतना नहीं होता है कि होता है कुछ भी नहीं होता यह जरूर देखें आपको पसंद है उनकी रिक्वायरमेंट तो यह सब पॉइंट देखना आपका बहुत ही जरूरी है और दोस्तों जब आपको Personal Loan मिल जाएगा|

 तो यह ध्यान रखें कि उसको एकदम टाइम सेट करें क्योंकि Personal Loan सबसे हाई Loan Loan होता है और अगर इसको अपने टाइम से नहीं भरा तो यह आपको आपके सिविल को खराब कर सका आपको जैसे Personal Loan जो होता है वह उसका अमाउंट भी बैंक का ज्यादा नहीं दे सकती क्योंकि इसका रीजन होता है क्योंकि पूरा होता है और कोई सिक्योरिटी आप उसमें देते नहीं होता है|

Sellary account

 वह जाती है इंडियन मैन पर्सन हो जिसका वहां पर सैलरी अकाउंट तो अच्छा सैलरी हो या फिर अच्छा बिजनेस करंट अकाउंट चलता हूं रेगुलर उसके ट्रांजिशन होते हो और विश्वास हो तो और अच्छा से देश को तो उसी को 45 लाख तक विदाउट सिक्योरिटी के Loan दे सकती है तो दोस्तों यह मेरा समझाना था कि Personal Loan लेना एक ठीक है Personal Loan आप लोग लेकिन तभी लोग जो आपको अर्जेंट रिक्वायरमेंट है आपके पास कोई शौक नहीं है कि मुझे Personal Loan लेने का जरूरत है सबसे ज्यादा होता है देना पड़ता है 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here